ज़मीन पर पांव रखते ही महिला को आने लगता है चक्कर, दिन के 23 घंटे पड़ी रहती है बिस्तर पर!
ज़मीन पर पांव रखते ही महिला को आने लगता है चक्कर, दिन के 23 घंटे पड़ी रहती है बिस्तर पर!


Thank you for reading this post, don't forget to subscribe!

दुनिया में अलग-अलग किस्म के लोग हैं और कई बार उनको होने वाली परेशानियां इतनी अजीबोगरीब होती हैं कि आप एक बार में कुछ समझ ही नहीं पाते. मेडिकल साइंस में भी कुछ बीमारियों का ज़िक्र इतना सामान्य नहीं है कि हम देखते ही उन्हें पहचान लें. ऐसे में अजीब से लक्षण सामने आने के बाद डॉक्टर भी इसे धीरे-धीरे समझ पाते हैं. ऐसी ही एक बीमारी से 28 साल की महिला गुजर रही है, जो उसे शारीरिक तौर पर स्वस्थ होने के बाद भी बिस्तर पर लेटे रहने को मजबूर करती है.

आपने फोबिया और एलर्जी के बारे में तो सुना ही होगा. फोबिया जहां मानसिक स्थिति है, जिसे काउंसलिंग से दूर किया जा सकता है, वहीं एलर्जी एक शारीरिक समस्या है. लिंडिस जॉनसन (Lyndis Johnson) नाम की 28 साल की महिला को एक अजीबोगरीब एलर्जी हो गई है, जिसके चलते उसे ज़मीन पर खड़े होते ही चक्कर और उल्टी आने लगती है.

ज़मीन पर 5 मिनट भी नहीं खड़ी हो पाती
बच्चा जन्म के बाद सबसे पहले ज़मीन पर खड़े होकर चलना सीखता है, सोचिए अगर उसे खड़े होने से ही एलर्जी हो, तो ज़िंदगी कैसे कटेगी? लिंडिस जॉनसन (Lyndis Johnson) को ऐसी ही एलर्जी है, जिसकी वजह से वो ज़मीन पर 5 मिनट भी खड़ी नहीं हो पातीं. उन्हें दरअसल गुरुत्वाकर्षण से ही एलर्जी हो गई है, जो सुनने बेहद अजीब है. महिला खड़े होते ही चक्कर खाने, उल्टी करने और बेहोशी की शिकायत करने लगती है. लेटे रहने पर उन्हें आराम मिलता है, यही वजह है कि वो दिन के 23 घंटे बिस्तर पर लेटी रहती हैं. यहां तक कि नहाने के लिए भी वो शॉवर चेयर का इस्तेमाल करती हैं.

वो दिन के 23 घंटे बिस्तर पर लेटी रहती हैं. यहां तक कि नहाने के लिए भी वो शॉवर चेयर का इस्तेमाल करती हैं.(Credit-Lyndis Johnson/Facebook)

पहले नेवी में काम करती थी लिंडिस
डेली स्टार के मुताबिक अमेरिका के Maine में Bangor की रहने वाली लिंडसी पहले ऐसी नहीं थीं, वे बेहद एक्टिव थीं और नेवी में काम करती थीं. उन्हें फरवरी, 2022 में इस बीमारी के बारे में पता चला, जिसे पॉश्चुरल टैकीकार्डिया Postural Tachycardia कहा जाता है. वे इससे पहले 7 साल तक उल्टी, चक्कर, पीठ में दर्द, बहोशी और पेट के निचले हिस्से में दर्द जैसे लक्षणों से जूझ रही थीं. पहले इसे तनाव समझा गया लेकिन बाद में पता चला कि वे ग्रैविटी से एलर्जिक हैं. हालांकि अब वे बीटाब्लॉकर्स के सहारे उल्टी और बेहोशी से काफी हद से बच जाती हैं, लेकिन घर से बाहर निकलने के बारे में सोच भी नहीं सकतीं.

Tags: Ajab Gajab, Viral news, Weird news



Source link