Thank you for reading this post, don't forget to subscribe!

Social Media Influencer : एक वक्त हुआ करता था, जब माता-पिता बच्चों के पढ़-लिखकर डॉक्टर, इंजीनियर बनने के सपने देखा करते थे. हमेशा ही माता-पिता चाहते हैं कि बच्चे ऊंचे पद पर काम करें लेकिन आजकल की पीढ़ी का रुझान ज़रा बदल चुका है. उनके सपने भी इंटरनेट और सोशल मीडिया के चक्कर में ज़रा बदल चुके हैं. तभी तो एक हालिया स्टडी में बताया गया कि नई जेनरेशन (New Generation Loves to be Influencer) ज्यादा पढ़ने-लिखने में दिलचस्पी नहीं रखती बल्कि इंटरनेट पर छा जाने के सपने देख रही है.

अमेरिका में एक रिसर्च हुई है. HigherVisibility की ओर से नए ज़माने के करीब 1000 लोगों पर स्टडी की गई, जिसमें पता चला कि 16-25 साल की उम्र के बीच का हर चौथा शख्स खुद को भविष्य में सोशल मीडिया एनफ्लुएंसर (Gen Z Plans to Opt Inflencer as Career ) के तौर पर देखता है, न कि किसी पारंपरिक करियर में. आप ही सोचिए, ज़माना किस तेज़ी से बदल रहा है.

युवा पीढ़ी बनना चाहती है इंटरनेट स्टार
पिछले कुछ वक्त से सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म्स पर एनफ्लुएंसर्स यानि वीडियो और तरह-तरह कंटेंट क्रिएट करने वालों की बाढ़ सी आ गई है. इंस्टाग्राम से लेकर ट्विटर और फेसबुक पर भी ऐसे लोग आपको आसानी से दिख जाएंगे. फैशन, ट्रैवेल, टेक्नोलॉजी, फूड, डिज़ाइन, आर्ट, क्राफ्ट और म्यूज़िक तक से जुड़े कंटें क्रिएटर्स की कमी नहीं है. ऐसे में HigherVisibility की ओर से जब 1000 जेन ज़ी यानि 16-25 साल के लोगों पर रिसर्च की गई, तो नतीजे चौंकाने वाले आए. इनमें से हर चौथा शख्स सोशल मीडिया एनप्लुएंसर बनने की प्लानिंग में है. ये रिसर्च अमेरिका की नई पीढ़ी पर जुलाई में की गई थी.

क्या कहती है स्टडी ?
स्टडी में पता चला कि सैंपल के तौर पर मौजूद 40 फीसदी लोग आगे एनफ्लुएंर बनकर एंडोर्समेंट, स्पॉन्सरशिप और कंटेंट के ज़रिये पैसे कमाना चाहते हैं. ये वेस्ट कोस्ट में मौजूद युवाओं की राय थी. हालांकि मिडकोस्ट में ऐसे लोगों की संख्या घटकर 33 फीसदी हुई. साउथ और नॉर्थ ईस्ट में भी एनफ्लुएंसर बनने वाले युवाओं का प्रतिशत 36 और 38 फीसदी से ऊपर ही रहा. स्टडी में इस तरह के इंटरेस्ट को एक आंदोलन की तरह बताया गया है, जिसकी ओर युवा वक्त के साथ और भी ज्यादा आकर्षित हो रहे हैं.

Tags: Social media influencers, Viral news, Weird news



Source link