Thank you for reading this post, don't forget to subscribe!

दुनिया में खाने की कई तरह की विचित्र चीजें बनाई जाती हैं जिसके बारे में जानकर हर कोई दंग हो जाता है. कहीं चींटी की चटनी बनती है तो कहीं जानवरों के अंग से कोई खाना बनाया जाता है पर क्या आप जानते हैं कि एक ऐसी चाय भी बनती है जो पत्ती खाने वाले कीड़े से बनाई जाती है. अगर ये उसके शरीर से बनती, तो भी एक बार को इसको अपनाया जा सकता था, पर ये उस कीड़े के मल (Tea fabricated from insect dropping) से बनती है और इसके बारे में जानकर आपके होश उड़ जाएंगे.

ऑडिटी सेंट्रल न्यूज वेबसाइट की रिपोर्ट के अनुसार चू-ही-चा (Chu-hi-cha tea) नाम की एक चाय को जापान में बनाया गया है जो कैटरपिलर के मल (Tea fabricated from caterpillar droppings) से बनाई गई है. कैटरपिलर को भारत में इल्ला के नाम से जाना जाता है. ये जीव पैधों के सहारे जीवित रहते हैं और उनकी पत्तियों को खाते हैं. जापानी रिसर्चर सुयोशी मारुओका (Tsuyoshi Maruoka), क्योटो यूनिवर्सिटी में फैकल्टी ऑफ अग्रीकल्चर में ग्रैजुएशन स्टडीज की पढ़ाई कर रहे थे. तब उन्हें इस चाय को बनाने का ख्याल आया.

चाय को कैटरपिलर के मल से बनाया जाता है. (फोटो: Twitter/@zairolhamisam)

कीड़े के मल से बना दी चाय
रिपोर्ट के अनुसार एक दिन यूनिवर्सिटी में उसका सीनियर ढेरों कैटरपिलर लेता आया. उसने कहा कि ये एक तरह का गिफ्ट है जो उसे कहीं से मिला है. सुयोशी को नहीं समझ में आया कि वो उनका क्या करे, उसने सोचा कि वो उन्हें खाना खिलाएगा और बाद में सोचेगा कि उनका क्या करना है. फिर उसने उन्हें पत्तियां खाने को दी और फिर जब उन्होंने मल त्यागा तो उसे साफ करते वक्त शख्स को उसकी महक बहुत अच्छी लगी. उसको तुरंत ही उसकी चाय बनाने का ध्यान आया.

मार्केट में उतारने की कर रहा है तैयारी
उसे चाय में तब्दील करने के बाद, मल के रंग के चलते चाय का भी खूबसूरत रंग बनकर आया और उसकी खुशबू भी चेरी ब्लॉसम की तरह लग रही थी. टेस्ट भी कमाल का था. सुयोशी ने सोचा कि उसका एक्सपेरिमेंट काम आ गया. फिर उसने चाय को अलग-अलग तरह से बनाने का फैसला किया. उसने फिर 20 अलग-अलग कीड़ों और 40 अलग पौधों के कॉम्बिनेशन से खास तरह की चाय बना डाली. उसने बताया कि चाय की खुशबू और उसका टेस्ट इस बात पर निर्भर करता है कि किस कीड़े को कौन सा पौधा खिलाया जा रहा है. शख्स ने इस चाय को मार्केट में उतारने का भी सोचा है जिसके लिए उसने क्राउड फंडिंग करने का फैसला किया. अभी तक उसने 12 लाख से ज्यादा रुपये कमा लिए हैं. वैसे ये पहली बार नहीं है कि लोग कीड़े के मल से चाय बना रहे हैं. सालों से रेश्म के कीड़े के मल से चाय बन रही है जो चाय की पत्तियों को ही खाते हैं.

Tags: Ajab Gajab news, Trending news, Weird news



Source link