Thank you for reading this post, don't forget to subscribe!

Robot Broke Boy’s Finger : इस बात पर कई बार बहस हो चुकी है कि इंसानों की दुनिया में अगर रोबोटों की संख्या बढ़ेगी तो क्या होगा ? कुछ लोग इसे इंसानों की मदद करने वाला मानते हैं तो कुछ लोगों को हमेशा इस बात की आशंका होती है कि मशीन में इंसानों जैसा विवेक नहीं हो सकता. इस बात का एक उदाहरण रूस की राजधानी मॉस्को (Robot Broke Finger in Chess Competition) में देखने को मिला है. यहां एक बच्चे की उंगली रोबोट से तोड़ दी.

डेली स्टार की रिपोर्ट के मुताबिक रूस (Russia News) की राजधानी मॉस्को में एक चेस कॉम्पटीशन (Robot Broke Finger in Chess Competition) के दौरान रोबोट ने 7 साल के खिलाड़ी की उंगली ही तोड़ दी. एक शतरंज के मैच के दौरान रोबोट ने दिखा दिया कि मशीन कभी इंसान नहीं बन सकती. इस घटना का एक वीडियो सोशल मीडिया पर इस वक्त वायरल हो रहा है.

मैच के दौरान दैत्य बना रोबोट
तास न्यूज एजेंसी से बात करते हुए मॉस्को चेस फेडेरेशन के प्रेसिडेंट सर्गेई लाजरेव ने बताया, ‘रोबोट ने बच्चे की उंगली तोड़ दी. ये वाकई में बहुत बुरा है. रूसी मीडिया से लेकर पूरी दुनिया में इस घटना की चर्चा हो रही है. इससे जुड़ा हुआ एक वीडियो भी वायरल हो रहा है, जिसमें साफ दिखाई दे रहा है कि पहले रोबोट बच्चे के एक मोहरे को निकालकर बाहर करता है. इसके बाद बच्चा अपनी चाल चलता है लेकिन रोबोट उसकी उंगली पकड़ लेता है और नहीं छोड़ता. इस घटना से वहां मौजूद लोगों में हड़कंप मच जाता है. बहुत से लोग बच्चे की मदद के लिए आगे आते हैं और आखिरकार उसे रोबोट की पकड़ से आज़ाद करा लेते हैं.

मशीन के आगे मान लेनी पड़ती है हार
ऐसा नहीं है कि पहली बार किसी रोबोट ने इस तरह इंसान पर हमला किया हो. इससे पहले अमेरिका के मिशिगन में एक असेंबली लाइन वर्कर रॉबर्ट विलियम्स को रोबोट ने साल 1979 में मार डाला था. ये रोबोट द्वारा इंसान की जान लेने की पहली घटना थी. साल 1981 में जापान में फैक्ट्री वर्कर केंजी उरादा को रोबोट ने ग्राइंडर मशीन में धकेलकर मार डाला था. साल 2015 में रोबोट ने 22 साल के वर्कर को रोबोट ने मौत के घाट उतारा था. इसी साल भारत में भी 24 साल के कार फैक्ट्री वर्कर को रोबोट ने मारा था.

Tags: Ajab Gajab, Viral news, Weird news





Source link