Thank you for reading this post, don't forget to subscribe!

नागौर. कृषि मंडी में जीरे के भाव लगातार आसमान छू रहे हैं. कृषि मंडी सचिव रघुनाथ सिंवर की मानें तो पिछले महीने यानी दिसबंर के महीने की शुरूआत में जीरा 20,000 रुपये प्रति क्विंटल बिक रहा था लेकिन जीरे की मांग लगातार बढ़ने के कारण अब इसकी कीमत 34,000 रुपये प्रति क्विंटल हो गई है. यही नहीं सिंवर जैसे जानकार मान रहे हैं कि अभी यह बढ़कर 40,000 रुपये तक हो सकता है. इस भाव को लेकर चर्चा तो है लेकिन क्या आप जानते हैं यह ट्रेंड क्यों देखा जा रहा है?

जीरे के भाव लगातार इसलिए बढ़ रहे हैं क्योंकि यह नागौर की प्रसिद्ध फसलों में से एक है. नागौर जिले के जीरे की मांग देश-प्रदेश से ज्यादा विदेशों तक भी है. यहां एक्सपोर्ट क्वालिटी के जीरे का उत्पादन होता है. इन दिनों जीरे की जो फसल आ रही है, वह पिछले साल की बताई जा रही है. जीरे की मांग लगातार बढ़ने के कारण सिंवर बता रहे हैं कि इसके भाव भी उछल रहे हैं.

इस साल जीरे और अन्य पैदावारों की कीमतों का बोझ भले ही ग्राहकों की जेब पर जाए लेकिन इस साल किसान इस फसल से बड़े खुश हैं. रबी के सीजन की अन्य फसलों की कीमतें भी किसानों को अच्छी मिलीं. किसानों का कहना है पिछले वर्ष के मुकाबले हर फसल के भाव 2000 से 5000 रुपये बढ़कर मिले.

रबी की फसल कहलाने वाले जीरा में अनेक प्रकार के पोषक तत्व पाये जाते हैं. जीरा एक बेहतरीन एंटी-ऑक्सिडेंट हैं. साथ ही यह सूजन को कम करने और मांसपेशियों को आराम पहुचांने में कारगर है. इसमें फाइबर भी पाया जाता है. आयरन, कॉपर, कैल्शियम, पोटैशियम, मैगनीज, जिंक व मैगनीशियम जैसे मिनरल्स का अच्छा सोर्स भी है. इसमें विटामिन ई, ए, सी और बी-कॉम्प्लैक्स भी खासी मात्रा में पाए जाते हैं.

ब्रेकिंग न्यूज़ हिंदी में सबसे पहले पढ़ें News18 हिंदी| आज की ताजा खबर, लाइव न्यूज अपडेट, पढ़ें सबसे विश्वसनीय हिंदी न्यूज़ वेबसाइट News18 हिंदी|

FIRST PUBLISHED : January 11, 2023, 15:06 IST



Source link