Thank you for reading this post, don't forget to subscribe!

मोतिहारी (पूर्वी चंपारण). बिहार के पूर्वी चंपारण जिले में एक चौंकाने वाली खबर सामने आई है. तकरीबन डेढ़ महीने पर जिस महिला की मौत हो गई थी, जिसकी हत्‍या के आरोप में उनका पत‍ि जेल में बंद है, वह अब जिंदा मिली हैं. हत्‍या के मामले में नया ट्विस्‍ट आने से आमलोगों के साथ ही पुलिस भी भौंचक्‍का है. घटना की सच्‍चाई सामने आने के बाद सबसे बड़ा सवाल यही उठ रहा है कि आखिरकार पुलिस ने हत्‍या जैसे संगीन आरोप में प्राथमिक छानबीन किए बगैर मामला दर्ज कर कैसे कार्रवाई शुरू कर दी? महिला के जिंदा पाए जाने पर फिलहाल पुलिस भी आश्‍चर्यचकित है.

जानकारी के अनुसार, महिला की हत्या के आरोप में उनके पिता ने सुगौली थाना में प्राथमिकी दर्ज कराई थी. इसपर पुलिस ने महिला के पति शेख सद्दाम को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया था. करीब डेढ महीने से सजा भुगत रहे सद्दाम के परिजनों ने मृत घोषित महिला को जिन्दा खोज निकाला है. महिला को मोतिहारी नगर के अगरवा मोहल्ला से बरामद किया गया है. वह अपने प्रेमी के साथ रह रही थीं. घटना सुगौली थाना के निमुई गांव की है. पकड़ीदयाल थाना क्षेत्र के निवासी महिला के पिता सफी अहमद ने अपने दामाद शेख सद्दाम पर दहेज के लिए बेटी नाजनीन खातून की हत्या करने और शव को गायब करने का आरोप लगाते हुए प्राथमिकी दर्ज कराई थी.

आशिक को दिल दे बैठी 3 बच्‍चों की मां, पंचायत लगाकर महिला की प्रेमी से करा दी शादी, देखें PHOTOS

महिला के पिता ने लगाए थे गंभीर आरोप
सफी अहमद द्वारा दर्ज प्राथमिकी में आरोप लगाया गया था कि उनकी बेटी की हत्या करने के बाद नवजात का अपहरण कर ससुरालवालों ने उसे कहीं छुपा दिया है. प्राथमिकी में सफी अहमद ने आरोप लगाया था कि दहेज में 5 लाख रुपये की मांग की गई थी और रुपये नहीं देने के कारण हमेशा नाजनीन की पिटाई की जाती थी. पिटाई के दौरान हत्या करने की धमकी भी दी जाती थी. सुगौली थाना पुलिस ने प्राथमिकी दर्ज कर आनन-फानन में मृतका के पति शेख सद्दाम को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया था. सद्दाम गत 4 जून से मोतिहारी सेंट्रल जेल में विचाराधीन कैदी की तरह रह रहा है.

मृत महिला को ढूंढ़ निकाला
सद्दाम के परिजनों ने मृत घोषित नाजनीन खातून को मोतिहारी नगर के अगरवा मोहल्ला से खोज निकाला. वह अपने प्रेमी फैयाज के साथ घर से फरार हो गई थी. फैयाज प्रेमिका नाजनीन को मोतिहारी के अगरवा मुहल्ला में एक किराये के मकान में रखता था, जहां वह कभी-कभी आया भी करता था. नाजनीन अपने पुत्र के साथ रह रही थी. बीती रात बेटे की तबीयत बिगड़ने के बाद डॉक्टर से दिखाने के क्रम में मामले का खुलासा हुआ. ससुराल पक्ष के लोगों ने अगरवा मुहल्ला से नाजनीन को बरामद किया. मृत घोषित नाजनीन को बरामद कर ससुरालवालों ने सुगौली थाना पुलिस को सूचित किया, जहां से पुलिस ने मृत घोषित महिला को बरामद कर न्यायलय में पेश किया.

Tags: Bihar News, East champaran, OMG News



Source link