sbi new update 2023-“जानिए विनय एम टोंस का सफर: PO से MD तक कैसे पहुंचे, जो चलाएंगे सबसे बड़ा सरकारी बैंक!”

SBI new update 2023-“जानिए विनय एम टोंस का सफर: PO से MD तक कैसे पहुंचे, जो चलाएंगे सबसे बड़ा सरकारी बैंक!”….


“SBI Account: एसबीआई, भारत का सबसे बड़ा बैंक, माना जाता है। अब एसबीआई के साथ एक महत्वपूर्ण अपडेट हुआ है। विनय एम टोंस को एसबीआई का प्रबंध निदेशक (MD) नियुक्त किया गया है। इस विशेष अपडेट को जानें…”


SBI new update 2023-"जानिए विनय एम टोंस का सफर: PO से MD तक कैसे पहुंचे, जो चलाएंगे सबसे बड़ा सरकारी बैंक!",KALTAK NEWS.COM

State Bank of India: स्टेट बैंक ऑफ इंडिया (SBI) को देश के सबसे बड़े कमर्शियल बैंक के रूप में माना जाता है। इस दौरान, एसबीआई से एक महत्वपूर्ण अपडेट सामने आया है। केंद्र सरकार ने विनय एम टोंस को एसबीआई के प्रबंध निदेशक (MD) के रूप में नियुक्त किया है। विनय को इस पद पर दो साल के लिए नियुक्त किया गया है, और उन्हें 30 नवंबर 2025 तक इस सबसे बड़े वाणिज्यिक बैंक के शीर्ष पद पर बनाए रखा जाएगा। वह वर्तमान में बैंक के डिप्टी एमडी के तौर पर कार्यरत हैं।

विनय एम टोंस का चयन एक महत्वपूर्ण कदम है जो दिखाता है कि सरकार ने एसबीआई को मजबूत कमार्शियल बैंक के रूप में बनाए रखने का उद्देश्य रखा है। विनय ने अपने पूर्व के पदों में से कई महत्वपूर्ण कार्यों का संचालन किया है और उन्हें एसबीआई के प्रमुख के रूप में चयन किया गया है।

उनकी प्रमुख जिम्मेदारियों में से एक है बैंक की व्यावसायिक गतिविधियों का प्रबंधन करना, विभिन्न क्षेत्रों में वित्तीय सेवाएं प्रदान करना, और बैंक के उच्चतम स्तर के नेतृत्व में योजनाएं बनाना शामिल है।

विनय एम टोंस का अधिकारिक पदभार स्वीकार करने के बाद, उन्हें बैंक की विभिन्न पहलुओं का संचालन करना होगा, जिसमें बैंक की संरचना में सुधार, नई योजनाएं, और बाजार में बढ़ती हुई प्रतिस्थापन शामिल हो सकते हैं। विनय एम टोंस की यह नियुक्ति एसबीआई को आगे बढ़ने में मदद करने और बैंक को विभिन्न आर्थिक क्षेत्रों में मजबूत करने की दिशा में एक महत्वपूर्ण कदम है।

मार्केट कैप

वित्तीय सेवा संस्थान ब्यूरो (एफएसआईबी) ने विनय एम टोंस की एसबीआई में प्रबंध निदेशक (MD) पद के लिए सिफारिश की थी, और इसके बाद उन्हें इस पद के लिए नियुक्ति मिली है। इस नियुक्ति का चयन प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता वाली कैबिनेट की नियुक्ति समिति द्वारा किया गया था। इस नए पद में विनय एम टोंस को आगे बढ़ने का मौका मिला है, जिससे उन्हें एसबीआई की संगठनात्मक और वित्तीय क्षमता में मदद मिलेगी। एफएसआईबी ने उनकी सिफारिश को मंजूरी देने के बाद, इस प्रमुख नागरिक सेवा बैंक को एक नए नेतृत्व में मजबूती प्राप्त होगी। यह नियुक्ति एसबीआई के उच्च स्तर के प्रबंधन में और बैंक की स्थिति में सुधार करने के लिए एक महत्वपूर्ण कदम है। बैंक की मार्केट कैप का उल्लेख करते हुए यह भी सामने आया है कि इसकी मार्केट कैप 21 नवंबर को 5 लाख करोड़ रुपये से भी ज्यादा है।

30 से ज्यादा साल का अनुभव

यह बताया जा रहा है कि विनय एम टोंस ने डिप्टी एमडी के रूप में टोंस कॉर्पोरेट अकाउंट्स ग्रुप (सीएजी) की देखभाल की, जो बड़े कॉर्पोरेट ग्राहकों को बैंक देता है। 1988 में प्रोबेशनरी ऑफिसर (पीओ) के रूप में टोंस ने एसबीआई में शामिल होने का निर्णय किया था। इसके बाद से उन्होंने भारत के साथ-साथ विदेशों में भी कई जगहों पर काम किया है। टोंस का करियर 30 साल से ज्यादा का हो चुका है और उन्होंने अपने करियर के दौरान बैंक के प्रमुख कार्यों और परियोजनाओं का नेतृत्व किया है।

टोंस को एफएसआईबी के माध्यम से बैंक के उच्चतम पद पर चुना गया है, जहां से वह सबसे बड़े सरकारी बैंक, एसबीआई, की कमान संभालेंगे। उन्हें 30 नवंबर 2025 तक का समय मिला गया है और उन्हें बैंक की दिनचर्या और संचालन को सुनिश्चित करने का दायित्व है। वित्तीय सेवा संस्थान ब्यूरो (एफएसआईबी) के अनुसार, टोंस ने अपने अब तक के करियर में बैंक के कई प्रमुख क्षेत्रों में अपनी योगदानी दी है और उनका अनुभव उन्हें इस उच्च पद के लिए अनुकूलित बनाता है।

खाली हो गया था बैंक का टॉप पद

भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) ने स्वामीनाथन जानकीरमन को डिप्टी गवर्नर के रूप में नियुक्त किया जाने के बाद, बैंक का शीर्ष पद रिक्त हो गया था। इस समय, एसबीआई का प्रबंध चार प्रबंध निदेशकों और एक अध्यक्ष के साथ संचालित होता है। इस तरह, अब विनय एम टोंस बैंक के एमडी के पद को संभालेंगे।

विनय एम टोंस की नियुक्ति के बाद, एसबीआई ने बैंक के शीर्ष प्रबंध के रूप में उन्हें चुना है। उन्होंने बैंक में विभिन्न पदों पर 30 साल से ज्यादा का करियर बनाया है और उन्होंने विभिन्न विषयों में अपने अद्वितीय ज्ञान के लिए पहचान बनाई है। स्वतंत्रता के बाद भारतीय बैंकिंग क्षेत्र में सबसे बड़े प्रमुख पद पर नियुक्त होने वाले टोंस, अपने अच्छे कार्य और नेतृत्व के लिए पहचान बना चुके हैं। उनकी नेतृत्व क्षमताएं और वित्तीय अनुभव से भरपूर हैं, जिससे उन्हें बैंक के संचालन को मजबूती से संभालने का दावा करने का मौका मिला है।

Leave a Comment

%d bloggers like this: